चकिया: गूंज उठा परिसर,, वैदिक मंत्रोचार व कलमा के बीच 96 हुए एक दूसरे के……..विधायक ने दिया प्रमाणपत्र,,,पैसे के अभाव में नहीं रुकेंगी बेटियों की

सहनाई की उठी गूंज, एक दूसरे के हुए 96 जोड़े
मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का हुआ आयोजन
पैसे के अभाव में नहीं रुकेंगी बेटियों की शादियां-विधायक

रिपोर्ट—- राम अशीष
चकिया, चंदौली। पूर्वाचल पोस्ट

स्थानीय ब्लाक परिसर में शुक्रवार की दोपहर से गुंजती सहनाईयों के बीच मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। जिसमें कुल 96 जोड़ों ने एक दूसरे को माला पहनाकर वैदिक मंत्रोचार व कलमा के बीच विवाह संपन्न हुआ। क्षेत्रीय विधायक शारदा प्रसाद व बीजेपी प्रांतीय कार्यकारणीय सदस्य सुरेन्द्र सिंह सहित अन्य ने वर वधु को आर्शीवाद देते हुए उन्हें विवाह का प्रमाण पत्र वितरीत किया।
शासन के निर्देश पर सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। जहां पर पूरे ब्लाक परिसर को सजाया गया। वहीं हर जोड़ों के लिए अलग-अलग मंडप बनाए गए थे। गूजती सहनाईयों के बीच दूर-दूर से आए वर वधुओं ने फेरे लेकर एक दूसरे को माला पहनाया। वैदिक मंत्रोचार के बीच 94 जोड़ों का विवाह संपन्न हुआ। वहीं दो मुस्लिम जोडों का मौलवी ने निकाह पढ़ाकर विवाह संपन्न कराया। विवाह संपन्न होने के उपरांत मौजूद लोगों ने वर वधु को गृहस्थ जीवन के लिए शुभकामनाएं व आर्शीवाद दिए।

 

इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए क्षेत्रीय विधायक ने कहा कि हमारे मुख्यमंत्री ने ऐसा पुनीत कार्य प्रारंभ किया जो काफी सराहनीय है। अब पैसे के अभाव में बेटियों की शादी नहीं टूटेगी। क्यों कि हमारे मुख्यमंत्री जी ने बेटियों की शादी की पूरी जिम्मेदारी खुद लेकर मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का कार्यक्रम चला रहें हैं। आज पूरे उत्साह के साथ बेटियों के पिता कन्यादान कर रहें है। बेटियों का कन्यादान करना सबसे बड़ा पुनीत कार्य है। बेटियों के शादी होते ही 35 हजार रुपये शासन से सीधे उनके खातों में भेज दिया जायेगा। वहीं सरकार द्वारा 10 हजार रुपये का उपहार में सामान भी दिए जा रहे हंै। यही नहीं खाने पीने की भी व्यवस्था सरकार उठा रही है।

वहीं  सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि इस योजना से वर बधुओं की शादी संपन्न हो रही है। कम खर्च में सामूहिक विवाह संपन्न कराकर एक ऐतिहासिक कदम उठाया गया है। जो लगातार चलता आ रहा है। कोरोना संकट के दौरान इसे कुछ समय के लिए अस्थगित कर दिया गया था। लेकिन कम होने के उपरांत पुनः गरीब बेटियों की शादी संपन्न हो इसके लिए यह कार्यक्रम दोबारा शुरु कर दिया गया है।
इस दौरान जिला समाज कल्याण अधिकारी नागेन्द्र कुमार मौर्या, जिला दिव्यांग अधिकारी राजबहादुर सिंह, सांसद प्रतिनिधि कैलाश दूबे, ब्लाक प्रमुख शिवेन्द्र प्रताप सिंह, बीडीओ सरिता सिंह, मंडल अध्यक्ष राघवेन्द्र प्रताप सिंह, एडीओ समाज कल्याण केशव प्रसाद, एडीओ पंचायत सतेन्द्र श्रीवास्तव, ग्राम प्रधान बब्बन यादव, अरविंद कुमार पटेल, हस्मतुल्लाह, सचिव वरुन सिंह, श्रीचंद्र, अमर सिंह, एकाउंटेंट अंजनी सोनकर, नवीन सोनकर सहित अन्य लोग मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *