पैरामेडिकल कालेज के निदेशक के खिलाफ दुष्कर्म पीडि़ता ने दर्ज कराया बयान….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर। पीपीगंज थाने में पैरा मेडिकल कालेज के निदेशक शंभू शरण गुप्ता पर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराने वाली छात्रा का पुलिस ने मजिस्ट्रेटी बयान कराया है। 164 के तहत हुए बयान के आधार पर पुलिस अब आगे की कार्रवाई करेगी। छात्रा यदि अपने बयान पर कायम रही तो निदेशक को पुलिस न्यायालय में प्रस्तुत करेगी।

तीन दिन से निदेशक हिरासत में

बता दें आरोपित निदेशक पिछले तीन दिन से पीपीगंज पुलिस की हिरासत में है। गोलीगंज में स्थित एसपीएम इन्स्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल कालेज के निदेशक शंभू शरण गुप्ता ने एक छात्रा को शादी का झांसा देकर एक साल से शारीरिक संबंध बनाया। शादी करने से मुकरने के बाद छात्रा ने निदेशक शंभू शरण गुप्ता के खिलाफ दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया है। निदेशक शंभूशरण गुप्ता शादीशुदा हैं उनके दो बश्चे भी हैं। छात्रा महराजगंज के पनियरा क्षेत्र की रहने वाली है। वह एसपीएम इंस्टीट्यूट आफ पैरामेडिकल कालेज के हास्टल में रह कर नर्सिंग की पढ़ाई कर रही है। पीपीगंज थानाध्यक्ष सत्यप्रकाश सिंह ने कहा कि दलित छात्रा के साथ हुई घटना को लेकर दुष्कर्म के अलावा एससीएसटी की धारा भी लगाई गई है। इसकी विवेचना सीओ कैंपियरगंज कर रहे हैं। छात्रा का मजिस्ट्रेटी बयान हो गया है। बयान के अधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

फंदे से लटकता मिला किशोरी का शव

उरूवा थाना क्षेत्र के ग्राम मरवटिया निवासी दिलीप की 16 वर्षीय साली रेखा का शव फंदे से लटकता हुआ मिला है। वह माह भर पूर्व मरवटिया इलाज कराने आई थी। दिलीप की ससुराल बड़हलगंज थाना क्षेत्र के दुबौली निवासी विश्वनाथ के घर में है। उरुवा पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर छानबीन कर रही है।

फरार आरोपित के घर कुर्की की नोटिस चस्पा

बड़हलगंज कोतवाली पुलिस ने गोवध अधिनियम, 11 पशु क्रूरता, धारा 420,307 में वांछित आरोपी रमेश यादव निवासी करौंदी जिला सुल्तानपुर के घर पर कुर्की के लिए नोटिस चस्पा किया है। पुलिस ने मुनादी कराकर कहा है कि उसके विषय में सूचना मिलने पर तत्काल पुलिस को जानकारी दी जाए। आरोपित यदि तय समय सीमा में न्यायालय में उपस्थित नहीं हुआ तो कुर्की की कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *