चकिया से सटे यहां डायरिया से एक की मौत, 33 लोग गंभीर रूप से बीमार…….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

नौगढ़, चंदौली। विकास क्षेत्र के उदितपुर सुर्रा गांव में डायरिया के प्रकोप से एक युवक की जहां मौत हो गई। वहीं 33 लोग गंभीर रूप से बीमार हैं। रविवार को स्वास्थ्य टीम ने गांव में पहुंचकर ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा का वितरण किया। ग्रामीणों को सलाह दी कि अपने आसपास सफाई रखने के साथ बासी भोजन से परहेज व पानी उबालकर ही पीएं।

शनिवार को गांव के राजेंद्र पुत्र छैबर उम्र 42 वर्ष को अचानक उल्टी, दस्त होने लगी। स्वजनों ने गांव स्थित एक क्लीनिक में दिखाया तो चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर होने पर रेफर कर दिया। लेकिन रास्ते में ही युवक की मौत हो गई। देखते ही देखते गांव में कई ग्रामीणों को उल्टी दस्त शुरू हो गई। ग्रामीणों ने सूचना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को दी। गांव में स्वास्थ्य टीम पहुंची तो अनुसूचित बस्ती में ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण करने पर 33 ग्रामीण बीमार मिले। इसमें रामअवध 40 वर्ष, चंदर 26 वर्ष, बुड़की 56 वर्ष, सुरेश 30 वर्ष, प्रभु 50 वर्ष, नीरू 45 वर्ष, गोविद 22 वर्ष, कतवारी 36 वर्ष, रीना 27 वर्ष, अनिल 50 वर्ष, सुनील 19 वर्ष, श्यामलाल 16 वर्ष, अशोक 27 वर्ष, सूरज 26 वर्ष, रामधनी 40 वर्षए जीरा 60 वर्ष , सुमन 16 वर्ष, मनाकी 17 वर्ष , सोनी 26 वर्ष, रीना 27 वर्ष, शिवानी 21 वर्ष, निरहू 65 वर्ष, संतरा 60 वर्ष, सुशीला 40 वर्ष, प्रवेश 25 वर्ष, पिकी 18 वर्ष, महेंद्र 30 वर्ष, पूजा 16 वर्ष, पूनम 14 वर्ष का स्वास्थ्य परीक्षण कर ओआरएस का घोल एवं दवा का वितरण किया गया। इसमें दिव्यांश 5 वर्ष, पार्वती 12, पूनम 14 वर्ष की हालत चिताजनक बताई गई। इनका इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में किया जाएगा। मेडिकल टीम ने बस्ती में पाउडर का छिड़काव करने के साथ ग्रामीणों को सफाई पर विशेष ध्यान देने की सलाह दी।

चिकित्सा अधीक्षक अवधेश पटेल ने बताया कि गांव में डायरिया का प्रकोप है। इसलिए ग्रामीणों को ओआरयस दिया गया। जिस युवक की मौत हुई है स्वभाविक है या डायरिया से हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट होगा। ग्रामीणों के मुताबिक उल्टी, दस्त से मृत्यु हुई है तो डायरिया से मौत माना जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!