दूसरी शादी बनी काल, ममेरे भाई ने साथियों संग की हत्या…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर। थाना क्षेत्र के नेवसा गांव स्थित ईंट भट्ठें पर काम करने वाले मजदूर पतरू की उसके ममेरे भाई ने अपने दो साथियों संग मिलकर हत्या कर दी। पुलिस ने तीनों आरोपितों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। तीनों आरोपितों ने पूछताछ में बताया कि रात को ही पतरू भट्ठे पर एक मजदूर की बेटी से अपनी दूसरी शादी करने वाला था। वह इसी बात का विरोध कर रहे थे। पुलिस ने शनिवार को आरोपितों को जेल भेज दिया।

यह है मामला

कोतवाली में घटना के पर्दाफाशा की जानकारी देते हुए सीओ अंजनी कुमार पांडेय ने बताया कि गांव में स्थित रामनरायन यादव के ईंट भट्ठे पर बिहार के नालंदा जिला के नूरसराय थाना के नारे गांव निवासी 36 वर्षीय पतरू मजदूरी करता था। उसके तीन बच्चे हैं। उसकी पत्नी की तीन वर्ष पूर्व मौत हो गई थी। वह भट्ठे पर ही एक मजदूर की बेटी से शादी करने वाला था। आरोपित विरोध कर रहे थे कि लड़की उससे आयु में उसके आधे उम्र की है लेकिन लड़की के घरवाले शादी के लिए राजी थे। इस बात को लेकर शाम को पतरू व आरोपितों के बीच मारपीट हुई।

इस दौरान मुख्य आरोपित पतरू के ममेरे भाई अरून निवासी मांझिनारी, थाना नूरसरया, नालंदा, बिहार ने अपने साथी दुलारचंद मांझी, फरेतपुर, पटना व सुक्खु वीवीपुर, गौरीचक, पटना के साथ मिलकर ईंट व डंडे से वार किया। इससे उसे गंभीर चोट आई। आरोपितों ने करीब डेढ़ घंटे तक भट्ठा मालिक को इसकी सूचना नहीं दी। बाद में सूचना मिलने पर भट्ठा मालिक वहां एक निजी चिकित्सक के साथ पहुंचे। चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया।

काफी दिनों से लड़की को भड़का रहे थे आरोपित

पतरू कुछ महीने पहले ही साथ में काम कर रहे एक मजदूर की बेटी से वह दूसरी शादी करना चाहता था। जिसके लिए मृतक ने उस लड़की के माता.पिता से बात कर शादी तय कर ली थी। इसी बीच हत्यारोपित उस लड़की को यह कहते हुए भड़का रहे थे कि रिश्ते में वह चाचा लगेगा।

प्रभारी निरीक्षक गोला संतोष कुमार सिंह ने कहा कि भट्ठा मजदूर पतरू के घायल होने के बाद ही उसे अस्पताल लेकर नहीं गए। उसे समय से अस्पताल ले जाया गया होता तो वह बच भी सकता था। तीनों आरोपितों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है।

शादी से पहले लापता हुई युवती, अपहरण का केस

गुलरिहा क्षेत्र की रहने वाली युवती शादी से एक दिन पहले लापता हो गई। खोजबीन के बाद परिवार के लोगों ने गांव के एक युवक के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कराया है।शुक्रवार को युवती की शादी थी।लड़के के घरवालों को जानकारी हुई ताे उन्होंने रिश्ता तोड़ दिया। 23 वर्षीय युवती की शुक्रवार को शादी थी।घरवालों ने शादी की पूरी तैयारी कर ली थी।रिश्तेदार भी घर आ गए थे।

गुरुवार की सुबह युवती को लेकर घर की महिलाएं धार्मिक अनुष्ठान करने गांव के बाहर पोखरे पर गयी थीं। वापस आने के बाद परिवार के लोगों ने हल्दी रस्म पूरी करने के लिए युवती को ढूंढना शुरू कर दिया। कमरे और छत के साथ ही पड़ोसियों के घर में देखा। न मिलने पर पोखरे की तरफ जाकर छानबीन की लेकिन पता नहीं चला।

परिवार के लोग युवती को ढूंढने रेलवे स्टेशन और बस स्टेशन पहुंचे लेकिन जानकारी नहीं मिली। खोजबीन करने पर पता चला कि गांव का रहने वाला करन भारद्वाज भी सुबह से घर पर नहीं है। चौराहे पर वह युवती के साथ दिखा था। जिसके बाद पिता ने गुलरिहा थाने पहुंच तहरीर दी। प्रभारी निरीक्षक विनोद अग्निहोत्री ने बताया कि अपहरण का केस दर्ज कर पुलिस आरोपित को ढूंढ रही है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!