कुल देवता को पूजा में चढ़ाई शराब पीने के बाद पांच लोगों की मौत, छह की हालत गंभीर…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस गेट कोतवाली क्षेत्र के गांव नगला सिंघी में पांच लोगों की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हुई है। दो दिन के अंतराल में पांच लोगों की माैत से गांव में दहशत बनी है। बताया जा रहा है कि दो दिन पहले कुल देवता पीर बाबा की पूजा के दौरान रिवाज के तहत शराब चढ़ाई गई थी। उसी शराब को पीने के बाद कुछ लोगों की हालत बिगड़ गई। एक के बाद एक कुल पांच लोगों की मौत हो गई। छह लोगों का उपचार अलीगढ़ के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने शराब की बिक्री करने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं ड्यूटी में लापरवाही के दोषी पाए गए चौकी प्रभारी और संबंधित बीट प्रभारी को निलंबित कर दिया गया है और संबंधित थाना प्रभारी के विरुद्ध उनकी भूमिका की जांच के लिए विभागीय जांच के आदेश दिए गए हैं।

हाथरस के गांव नगला सिंघी और नगला प्रह्लाद में सिंघी समाज के लोग रहते हैं। सोमवार को वहां के लोगों ने कुलदेवता शहीद बाबा पीर की पूजा की थी। इसमें रिवाज है कि पूजा में समाज के लोग अपने कुलदेवता को शराब चढ़ाते हैं। उसी शराब को प्रसाद के रूप में समाज के लोग ग्रहण करते है। इसी को पीने के बाद लोगों की हालत बिगड़ गई है।

पीड़त परिजनों ने आरोप लगाया कि गांव के ही रामहरी द्वारा से पूजन के लिए 20 क्वार्टर देशी शराब ली थी। इसको पीने के बाद मंगलवार को चार लोगों की हालत बिगड़ी, जिसमें से एक की दोपहर में और तीन लोगों की शाम को मौत हो गई। एक ग्रामीण ने इसकी सूचना दी पुलिस को दी। देर रात जिलाधिकारी रमेश रंजन, एसपी विनीत जायसवाल गांव पहुंचे और जांच की। तीन लोगों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया।

तबीयत बिगड़ने वाले सात लोगों को जिला अस्पताल से अलीगढ़ के लिए रेफर किया गया। इनमें से बुधवार की सुबह एक और व्यक्ति की मौत हो गई। शेष का उपचार चल रहा है। एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि मृतकों के पोस्टमार्टम में मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। इसके चलते बिसरा सुरक्षित रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!