कागजात तैयार करवाने में ही टूट गई सांसों की डोर, पढ़ें दिल को झकझोरने वाली खबर….

रपूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

आगरा। मैनपुरी में कोरोना वैक्सीन लगवाने के बाद महिला को बुखार आया। रिश्तेदारों के सहयोग से इलाज को स्वजन फर्रूखाबाद ले गए। जांच में कोरोना पाजीटिव मिलने के बाद जिला अस्पताल के चिकित्सक ने सीएमओ से लिखवाकर लाने की कहकर उपचार को भर्ती करने से मना कर दिया। स्वजन कागजात बनवाने को दौड़े। लेकिन महिला की सांसों की डोर आखिरकार टूट गई।

मामला मैनपुरी के कुसमरा कस्बा के पावर हाउस के समीप रहने वाले सत्यभान पाठक की 54 साल की पत्नी प्रेमलता से जुड़ा है। पुत्र अंकुर पाठक ने बताया कि 15 दिन पूर्व प्रेमलता ने स्थानीय सीएचसी पर कोविड वैक्सीन लगवाई। इसके बाद उनको बुखार आया। तबियत खराब होने पर स्वजन उनको निजी चिकित्सक के यहां ले गए। इंजेक्शन और दवा लेने से महिला की तबियत सुधर गई। बताते हैं कि इसके बाद फिर प्रेमलता को बुखार ने घेर लिया। जानकारी पर फर्रूखाबाद में रहने वाली बहन ने इलाज के लिए प्रेमलता को अपने पास बुला लिया। बुखार तेज होने पर उनको वहां के जिला अस्पताल में डाक्टर को दिखाया गया। जांच कराई तो पाजीटिव निकली। इस पर चिकित्सक ने अस्पताल में भर्ती कराने के लिए सीएमओ से लिखवाकर लाने के कह दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!