शहरों में लगा लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू, यहां देखें पूरी लिस्ट….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर आउट ऑफ कंट्रोल हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले 24 घंटों में में लगभग 1.70 लाख नए मामले सामने आए हैं। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात समेंत 10 राज्यों में सबसे अधिक हालात बेहद चिंताजनक है। सक्रिय मामलों की संख्या में भारत अब दुनिया भर में सबसे प्रभावित देशों की सूची में चौथे पायदान पर आ गया है। कई राज्य सरकारों ने बढ़ते कोरोना वायरस मामलों को रोकने के लिए लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू लगाया है।

महाराष्ट्र

कोरोना महामारी से सबसे बुरी तरह प्रभावित महाराष्ट्र में संक्रमण को रोकने के लिए राज्य सरकार जल्द लॉकडाउन लगाने पर फैसला ले सकती है। कोरोना महामारी पर गठित टास्क फोर्स ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ रविवार को हुई बैठक में इसका सुझाव दिया है। संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए मुंबई में शुक्रवार को रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक वीकेंड लॉकडाउन लगाया गया है। इसके अलावा कई शहरों में नाइट कफ्र्यू जैसे कदम उठाए गए हैं।

दिल्ली

दिल्ली सरकार ने 30 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया है। सभी सामाजिक, धार्मिक, सामाजिक और राजनीतिक कार्यक्रमों पर रोक लगा दी गई है। बसों की सभी सीटों पर बैठने की मिली छूट को खत्म करते हुए इसे अब 50 फीसद कर दिया गया है। मेट्रो की बोगी में भी अब क्षमता से 50 फीसद लोग ही यात्रा कर सकेंगे।

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने इंदौर, विदिशा, राजगढ़, बड़वानी और शाजापुर जिलों में लॉकडाउन की अवधि को बढ़ाकर 19 अप्रैल कर दिया है। जबकि बालाघाट, नरसिंहपुर, सिवनी और जबलपुर जिलों में 12 अप्रैल से 22 अप्रैल तक लॉकडाउन है। इसके अलावा बैतूल, रतलाम, खरगोन और कटनी में भी 9 अप्रैल को शाम 6 बजे से 17 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन है।

उत्तर प्रदेश

लखनऊ कानपुर और वाराणसी में 30 अप्रैल तक रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। मेरठ में 18 अप्रैल तक रात 10 से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा। गाजियाबाद और नोएडा में 17 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू। कानपुर में 30 अप्रैल तक। प्रयागराजए बरेली और आगरा में 20 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!