चकिया में यहां विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली इन 7 महिलाओं को नारी प्रेरणा सम्मान से किया गया सम्मानित…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

नारी सशक्तिकरण के लिए पुरुष मानसिकता को करें दर किनार

ब्लाक में आयोजित एक दिवसीय संगोष्ठी का हुआ समापन

चकिया, चंदौली। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर स्थानीय ब्लाक सभागार में सोमवार को पूर्वांचल पोस्ट फाउंडेशन द्वारा मिशन शक्ति के तहत भारत में महिलाओं की भूमिका विषयक एक दिवसीय संगोष्ठी व सम्मान समारोह का शुभारंभ मुख्य अतिथि मौलाना आजाद नेशनल उर्दू विश्वविद्यालय के पत्रकारिता विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर फरियाद ने दीपप्रज्वलित कर किया। गोष्ठी के दौरान विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 7 महिलाओं को नारी प्रेरणा सम्मान 2021 से विभूषित किया गया।

संगोष्ठी शुभारंभ के दौरान मुख्य अतिथि प्रोफेसर फरियाद ने कहा कि नारी सशक्तिकरण के लिए पुरुष मानसिकता को दर किनार करना होगा। आज महिलाएं शिक्षा, स्वास्थ्य, प्रशासनिक क्षेत्र के आलावा, सेना, पुलिस, विज्ञान, आंतरिक्ष, समुद्र से लेकर लड़ाकू हवाई जहाज चलाने का काम कर रही हैं। घर गृहस्थी के काम के साथ ही महिलाएं प्रबंधन की विशेषज्ञ होती हैं। वह परिवार के मानव संसाधन, वित्त, विपणन व जन संपर्क जैसे मामले संभालती हैं।

वहीं खंड विकास अधिकारी सरिता सिंह ने कहा कि महिला दिवस मनाने की सार्थकता तभी पूरी होगी जब व्यक्ति अपने अंदर के रावण को मारेगा। उन्होंने समाज के विभिन्न क्षेत्रों में महिलाओं द्वारा किए जा रहे कार्यो पर विस्तार से प्रकाश डाली, और यह भी कहा कि आज महिलाएं हर क्षेत्र में देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में यहां तक कि पृथ्वी से लेकर आकाश तक अपना परचम फहरा रहीं हैं। आज कंधे से कंधा मिलाकर पुरुषों के साथ काम कर रहीं हैं। महिलाएं अब अबला नहीं सबला है। वे आत्म निर्भर बनकर हर चुनौतियों का सामना कर रही हैं।

वहीं हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जाहिद ने कहा कि भारतीस संस्कृति में नारी के सम्मान को बहोत महत्व दिया गया है। कहा गया है कि जहां नारी की पूजा होती है वहां देवता निवास करते हैं। समाज में हमारी बहन बेटिया आज हर चुनौतियों का सामना करने के लिए मजबूती से आगे बढ़ रही हैं। लेकिन हमें एक गारजियन के तहत अपने बच्चों को भी संस्कार देना चाहिए कि जैसे अपने बहन, बेटी, मां, चाची, बुआ को सम्मान देते हैं उसी प्रकार दूसरों को भी सम्मान देना चाहिए।

सावित्री बाई फूले राजकीय महाविद्यालय की सहायक प्रोफेसर डा. अमिता सिंह व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की डा. अंसुल सिंह ने महिलाओं से घर की बच्चियों को भी बेहतर शिक्षा दिलाने में रुचि लेने का आह्वान किया। इसके उपरांत नारी प्रेरणा सम्मान 2021 से खंड विकास अधिकारी सरिता सिंह, पुलिस क्षेत्राधिकारी प्रीति तिवारी, ग्राम्या संस्थान की नीतू सिंह, सुनीता सिंह, छात्रा आकांक्षा कुमारी, वरिष्ठ चिकित्सक अंसुल सिंह, डा. अमिता सिंह को विभूषित करते अंगवस्त्र व प्रशस्ती पत्र प्रदान किया गया।

इस दौरान डायरेक्टर प्रशांत कुमार, मुस्ताक अहमद खां, शीतला प्रसाद केशरी, वरिष्ठ पत्रकार जावेद, एडीओ आईएसबी रामदरस, अजय राय, सभासद गीता सोनकर, मीना विश्वकर्मा, सुधा शर्मा, उर्मिला गुप्ता व मृत्युंजय, किरन, सुनीता, नवीन सोनकर, बबिता, लव कुमार, रवि गुप्ता, मनोज कुमार सहित सैकड़ों महिलाएं मौजूद रहीं। संचालन वरिष्ठ प्रत्रकार अशोक द्विवेदी ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *