दर.दर भटकने को मजबूर चंदौली के अन्नदाता……

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

जनपद चंदौली के अन्नदाता किसान इन दिनों अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर काटकर थक चुके हैं। एक तरफ तो वर्तमान सरकार किसानों के लाभ के लिए तरह.तरह की योजनाएं बनाने की दावा करती हैं एवं उसे लागू करने की रोजाना रट ही नहीं लगाती हैं रोजाना किसान गोष्ठी कर जनता के टैक्स का पैसा बर्बाद करती हैं वहीं चंदौली जिला प्रशासन किसानों के प्रति उदासीन है एवं उनका शोषण करने से बाज नहीं आ रही। ताजा मामला जनपद चंदौली के नवीन मंडी माधोपुर से है जहां की किसानों का लगभग 500. 600 क्विंटल धान अभी भी जिला प्रशासन द्वारा नहीं खरीदा गया अधिकारियों का कहना है कि विगत 28 फरवरी को धान क्रय का पोर्टल बंद हो गया है इस वजह से धान की खरीद नहीं हो पा रही है। एवं डिप्टी एमओ चंदौली से बात करने पर उन्होंने बताया कि मामला मेरे संज्ञान में नहीं है वहीं दूसरी तरफ किसानों का यह कहना है कि हमारे द्वारा धान मंडी में विगत 21 फरवरी को ही लाया गया मगर रसूखदारों के धान को अधिकारियों द्वारा खरीद लिया गया एवं सामान्य किसानों का धान मंडी परिसर में ही पड़ा हुआ है जिसकी सुध लेने वाला कोई नहीं है हम लोग अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर लगाकर थक चुके हैं अब भगवान भरोसे ही हैं चाहे जो हो किसानों जल्द ही आंदोलन की योजना बना कर उतरना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!