बुआ भतीजी का पोस्टमार्टम पूरा, नहीं मिला कोई क्लू, भर्ती किशोरी की हालत अब भी नाजुक…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

कानपुर। असोहा थानाक्षेत्र के गांव में बुआ.भतीजी की मौत व एक किशोरी के गंभीर घायल होने की घटना ने लोगों को झकझोर दिया है। पूरी रात पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी घटनास्थल पर डटे रहे और गहन पड़ताल की। गुरुवार की सुबह बसपा और सपा के नेताओं ने पीड़ित पक्ष के घर के बाहर धरना दिया। पुलिस की पूछताछ के बाद छोड़े गए पीड़ित पिता को धरना स्थल से हटाने जाने पर सपाइयों ने हंगामा किया। किशोरियों के शव पोस्टमार्टम के बाद गांव लाने से पहले प्रशासन ने सतर्कता के साथ तैयारी शुरू कर दी है। वहीं कानपुर अस्पताल में भर्ती किशोरी की हालत बिगड़ती जा रही है।

कानपुर में भर्ती किशोरी की हालत बिगड़ी

बुआ.भतीजी दो किशोरियों की मौत के बाद तीसरी किशोरी की हालत बिगड़ती जा रही है। कानपुर के अस्पताल में भर्ती किशोरी को सीसीयू में शिफ्ट कर दिया गया है। डॉक्टरों की पूरी टीम उपचार में लगी है। अस्पताल में बाहरी लोगों के प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। मीडिया कर्मियों को भी बाहर ही रोक दिया गया है। अस्पताल के हर फ्लार पर पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

गांव में सपाइयों का हंगामा

पुलिस की पूछताछ के बाद लौटे पीड़ित पिता को सपाइयों ने धरने पर बिठा लिया। इसपर पुलिस ने उन्हें हटाने का प्रयास किया तो हालात तनावपूर्ण हो गया। सपाइयों ने नारेबाजी के साथ हंगामा शुरू कर दिया। धक्का.मुक्की के बीच किसी तरह पुलिस ने पीड़ित पिता को निकालकर पड़ोसी के घर पर लिटाया है।

गांव में पुलिस बल तैनात

पोस्टमार्टम के बाद किशोरी के शवों को गांव लाने से पहले पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है। गांव में आठ थानों का फोर्स तैनात किया गया है। इसके साथ खुफिया भी अलर्ट हो गई है। पुलिस आला अधिकारी गांव में डेरा जमाए हैं। शवों के दफनाने के लिए गड्ढा खोदने आए पुलिस के बुलडोजर को स्वजन और सपाइयों ने वापस कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *