चकियाः एक दूजे के हुए इतने जोड़े, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत कराए गए सात फेरे……

4 शादीशुदा लोगों ने किया था फर्जी तरीके से रजिस्ट्रेशन

चकिया, चंदौली। गरीब बेटियों की शादी के लिए प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत स्थानीय विकास खंड परिसर में सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित किया गया। वहीं 53 हिन्दू व 2 मुस्लिम जोड़े शादी के बंधन में बंधे। कोरोना महामारी के चलते शारीरिक दूरी व कोरोना गाइडलाइन का पालन किया गया।

विकास खंड परिसर में वर वधू को बैठाकर वैदिक मंत्रोच्चार व कलमा के साथ 53 हिन्दू व 2 मुस्लिम जोड़ों की शादी संपन्न कराई गई। सभी जोड़ों को डिनर सेट, बैग, साड़ी, चुनरी, आभूषण व वर पक्ष के लिए वस्त्र, मौर, गमछा आदि सामान उपहार स्वरूप दिया गया। वहीं वर पक्ष के लड़के के खाते में 30 हजार की धनराशि भी भेजी गई। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि क्षेत्रीय बीजेपी विधायक शारदा प्रसाद रहे। विधायक ने वर वधू को आशीर्वाद देते हुए कहा कि जीवन में तमाम उतार चढ़ाव आते रहते हैं। लेकिन वैवाहिक जीवन के हर परिस्थिति में पति पत्नी को साथ रहना चाहिए। विधायक ने सभी 55 जोड़ों को प्रमाण पत्र प्रदान किया। वहीं विवाह रजिस्ट्रेशन के दौरान 4 शादीशुदा लोगों ने फर्जी तरीके से फार्म अप्लाई किया था। जिसे अधिकारियों ने चिन्हित कर लिया था। विवाह स्थल पर पहुंचते ही बीडीओ सुदामा यादव के निर्देश पर एडीओ पंचायत सतेन्द्र श्रीवास्तव ने उन 4 शादीशुदा को निर्देश देते हुए कहा कि आप लोग परिसर से बाहर चले जाए। यह उन लोगों की व्यवस्था है जिनकी शादी पहली बार हो रही हो और वह गरीब हो। एडीओ पंचायत ने चेताते हुए कहा कि आगे ऐसी हरकत पाई गई तो कानूनी कार्यवाई की जायेगी। इस दौरान बीडीओ सुदामा प्रसाद, विधायक प्रतिनिधि अश्वनी दूबे, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि संजय यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख शिवेद्र प्रताप, एडीओ पंचायत सतेन्द्र श्रीवास्तव, एडीओआईएसबी रामदरस, एडीओ समाजकल्याण, ग्राम प्रधान राजेश पटेल, ओम प्रकाश सिंह, हस्मतुल्लाह, सचिव अमर सिंह सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!