पूर्व विधायक के भतीजे को प्रधानी का चुनाव जिताने पर हुई हत्या, दस घायल…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

बरेली। पंचायत चुनाव खत्म होते ही रंजिश खूनी होने लगी। बिथरीचैनपुर ब्लॉक के गांव भरड़िया भगनापुर प्रधानी चुनाव की रंजिश रखने वाले दो पक्षों के आमने.सामने आने के बाद लाठी.डंडे चले। रंजिश पूर्व विधायक स्व. वीरेंद्र सिंह के भतीजे अमित को चुनाव जीतने में मदद करने वाले पक्ष और प्रधान पद के हारे हुए उम्मीदवार के पक्षों के बीच थी। मारपीट, पथराव में दोनों पक्षों के दस से अधिक लोग घायल हुएए जबकि सिर पर चोट लगने की वजह से 50 साल की एक महिला की मौत हो गई। गांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए पुलिसबल की तैनाती की गई। दोनों पक्षों के लोग घरों से फरार हो गए।

गांव भरड़िया भगनापुर में छत्रपाल ने प्रधानी पद के लिए प्रत्याशी अमित पटेल की मदद की। अमित पूर्व विधायक स्व. वीरेंद्र सिंह के भतीजे बताए जाते हैं। छत्रपाल की मदद से अमित ने प्रधानी का चुनाव जीत लिया। छत्रपाल की पत्नी मीना देवी ने बीडीसी का चुनाव जीता। जबकि मुनीष गंगवार प्रधान का चुनाव हार गए।

गांव के लोगों के अनुसार बुधवार रात साढ़े आठ बजे दोनों पक्षों के लोगों के बीच कहासुनी शुरू हुई। विवाद तूल पकड़ने के बाद लाठी.डंडे लेकर दोनों पक्ष एक दूसरे पर हमलावर हो गए। देखते ही देखते दोनों पक्षों के दस से अधिक लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलाें में छत्रपाल पक्ष से उनकी भाभी 50 वर्षीय गीता देवी के सिर पर लाठी लगने से गंभीर रूप से घायल हो गई।

हरीश गंगवार, छत्रपाल, लखपत पटेल समेत परिवार की तीन अन्य महिलाएं घायल हुई। उधर मुनीष गंगवार पक्ष से गुड्डू, गुड्डू की पत्नीए त्रिवेणी लाल आदी घायल हो गए हैं। पुलिस ने दोनों पक्ष के घायलों को मेडिकल के लिए जिला अस्पताल भेजा। वहीं गंभीर रूप से घायल गीता देवी को कुआंटांडा सीएचसी भेजा गया। जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के लिए शव को भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!