पूर्व सांसद सहित जिला पंचायत अध्यक्ष भी हारीं चुनाव, सपा ने कायम रखी बढ़त…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

लखनऊ। सियासी दलों के दखल के चलते जिला पंचायत के चुनाव में रोचक मुकाबले हुए। समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर जिला पंचायत चुनाव में अपनी बढ़त कायम रखी और दस उम्मीदवारों को जीत हाथ लगी। चुनाव में सांसद और विधायकों के नाते.रिश्तेदारों की उम्मीदवारी से तमाम दिग्गजों की प्रतिष्ठा भी दांव पर थी। सबसे चौंकाने वाला परिणाम जिला पंचायत अध्यक्ष माया यादव की हार का रहा। चिनहट वार्ड नंबर एक से बसपा समर्थित शशिपाल ने माया को हरा दिया। माया को सपा से समर्थन मिला हुआ था। दो बार से सपा के टिकट पर सांसद रहीं रीना चौधरी पाला बदलकर इस बार जिला पंचायत के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के समर्थन से किस्मत आजमाने उतरीं थीं। लेकिन उनका दांव नहीं चला।

सरोजनीनगर ब्लाक में वार्ड नंबर 15 में समाजवादी पार्टी समर्थित उम्मीदवार पलक रावत ने उन्हें हरा दिया। वहींए मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर की बहूको हार का सामना करना पड़ा। कौशल के गढ़ में उनकी बहू की हार काफी चौंकाने वाली है। सांसद के अलावा कौशल की पत्नी जया देवी खुद मलिहाबाद से विधायक हैं। ऐसे में जिला पंचायत में हार काफी मुश्किलें पैदा करने वााली है। मोहनलालगंज से समाजवादी पार्टी के विधायक अंबरीश गौतम ने इलाके में अपनी पकड़ को एक बार फिर साबित किया। उनकी पत्नी विजयलक्ष्मी ने भाजपा समर्थित उम्मीदवार को हराकर अपनी सियासी जमीन और पुख्ता की। वहीं सरोजनीनगर वार्ड नंबर 17 से किरन ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए लगातार चौथी बार जिला पंचायत सीट अपने नाम की। किरन फिलहाल निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में थीं। किरन ने सपा के समर्थन से खडी निवर्तमान सदस्य रीता यादव को चार हजार से अधिक मतों से हराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!