मतपत्र लेकर भागा प्रत्याशी का देवर, कई घंटे बाधित रहा मतदान, मुनादी के बाद शुरू हुई वोटिंग….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

प्रयागराज। यूपी के प्रतापगढ़ जिले में पंचायत चुनाव के दौरान संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र के पुरैली मखदूमपुर बूथ पर हंगामा हो गया। एक पक्षीय मतदान कराने की आशंका में एक महिला प्रत्याशी का देवर वहां से मतपत्र लेकर भाग निकला। इससे मतदान रुक गया पुलिस ने भारी मशक्कत के बाद आरोपित को गिरफ्तार करते हुए उसके घर से मतपत्र बरामद कर लिया।

पीठासीन की भूमिका पर उठाए सवाल

मखदूमपुर में सुबह से मतदान सही सलामत शुरू हुआ। वोट डाले जा रहे थे। दोपहर में करीब पौने बारह बजे एक महिला प्रत्याशी का देवर मोनू वहां पहुंचा और कहा कि यहां पर एक ही प्रत्याशी के लिए वोट डलवाए जा रहे हैं। यह उचित नहीं है। ऐसा नहीं होने दिया जाएगा। इसमें पीठासीन अधिकारी की भूमिका संदिग्ध है। यह सुनकर दूसरे पक्ष के लोग भिड़ गए और हंगामा होने लगा। किसी ने कहा कि बैलेट पेपर फाड़ दो, कोई चिल्लाने लगा कि मतपेटिका तोड़ दो। किसी ने कहा कि पानी डाल दें। अचानक मोनू ने टेबल पर रखे 99 मतपत्र समेटे और दूसरी ओर से चहारदीवारी फांदकर भाग निकला। इससे वहां मतदान रुक गया। थोड़ी ही देर में थानाध्यक्ष संग्रामगढ़ आशुतोष त्रिपाठी वहां पहुंचे और भारी पुलिस बल के साथ मोनू के घर पर दबिश दी। कमरे में छिपाकर रखे गए बैलेट पेपर को बरामद करते हुए मोनू और उसके साथ हंगामे में शामिल रहने के आरोप में उसके भाई सोनू, रोशन, बृजलाल, गिरधारी और अंकुर को भी पकड़ लिया।

अफसरों ने कराई मुनादी, तब शुरू हुआ मतदान

इस मामले में पीठासीन रामबाबू ने तहसीलदार रामजन्म यादव को सूचना दी। मौके पर पहुंचे तहसीलदार ने पूरे मामले से डीएम को अवगत कराया। इसके बाद क्षेत्र में तैनात अतिरिक्त सीओ प्रयागराज राजेश यादव भी वहां पहुंच गए। दिन में 11ः45 बजे से शाम को पांच बजे तक मतदान बंद रहा। तहसीलदार व एसओ ने गांव में मुनादी कराकर वोट देने का अनुरोध किया, तब जाकर फिर से मतदान शुरू हो पाया। तहसीलदार राम जन्म ने बताया कि इस मामले में पीठासीन अधिकारी द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!