यूपी पंचायत चुनावः यहां पर्चा ब्लैक होने पर, ​दो कर्मचारियों पर एक्शन, हटाए गये…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

यूपी पंचायत चुनाव में ग्राम प्रधान के पर्चों की बिक्री के लिए दावेदारों की भीड़ जुटी तो ब्लाक कर्मचारी और उनके रिश्तेदार तक पर्चे ब्लैक करने में जुट गए। जिससे गुस्साए दावेदारों ने ब्लाक परिसर में खूब हंगामा काटा। मामले की शिकायत एसडीएम से होने के बाद बीडीओ ने पर्चों की बिक्री कर रही एक महिला कर्मचारी समेत दो कर्मचारियों को काउंटर से हटा कर दूसरे कर्मचारियों को वहां तैनात कर दिया।

ब्लाक कार्यालय में इन दिनों प्रधान, क्षेत्र पंचायत और ग्राम पंचायत सदस्यो के पर्चे बिक्री की जा रही है। मंगलवार को तीसरे दिन ब्लाक कार्यालय में बिक्री के लिए जिला मुख्यालय से 500 पर्चे आए थे। पर्चे खरीदने के लिए लोगों की वहां खूब भीड़ जुटी। जिससे पर्चा बिक्री काउंटर पर लोगों की लम्बी लाईनें लग गयी। जिसका फायदा उठा कर ब्लाक कर्मचारियों ने पर्चों की ब्लैक शुरु कर दी। ओबीसी और महिला को दिए जाने वाले 150 रुपए के पर्चे को वह 300 रुपए में बेचने लगे। वही कुछ चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भी लोगों से रुपए ऐंठ उन्हें बैक डोर से पर्चे उप्लध कराने लगे। जिससे गुस्साए लोगों ने ब्लाक में खूब हंगामा काटा। बाद में लोगों ने एसडीएम वेदप्रकाश मिश्रा से फोन पर शिकायत कर कार्रवाई की मांग की। जिसपर एसडीएम ने बीडीओ को कार्रवाई के निर्देश दिए। जिसके बाद बीडीओ ने महिला कर्मचारी समेत दो कर्मियों को काउंटर से हटा उनके स्थान पर दूसरे कर्मचारियों को तैनात कर दिया।

ब्लाक कार्यलय में तैनात एक महिला संविदा कर्मी की ड्यूटी ग्राम प्रधान पद के पर्चों की बिक्री के लिए लगायी गयी थी। पर्चे खरीदने आए लोगों का आरोप था। कि महिला कर्मचारी का पति लाईन में लगे लोगों को पर्चे दिलाने की बात कह उनसे आधार कार्ड और 500 रुपए ऐंठ उन्हें शाम को घर से पर्चे लेने की बात कहने लगा। आरोप था कि उसने कई लोगों से रुपए भी ले लिए। मामले की शिकायत होने के बाद बीडीओ ने इस महिला कर्मचारी को काउंटर से हटा दिया। जिसके बाद उसका पति भी वहां से खिसक लिया। चन्द्र मोहन कन्नौजिया, बीडीओ, नवाबगंज का कहना है कि लोगों ने शिकायत की थी। जिसपर महिला कर्मचारी समेत दो कर्मचारियों को पर्चा बिक्री काउंटर से हटाकर उनके स्थान पर दूसरे कर्मियों को तैनात कर दिया गया है। इस मामले में अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं मिली है। अगर कोई शिकायत मिलती है। तो मामले की जांच करा कर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!