होली पर्व में मिलावट खोर सक्र‍िय, इस हेल्‍पलाइन नंबर पर करें श‍िकायत, फौरन पहुंचेगी जांच को टीम….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

लखनऊ। होली पर दूध और उससे बने खाद्य उत्पादों में अगर आपको गड़बड़ी लगे तो बस आप हेल्पलाइन नंबर घुमाकर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। साथ ही अब खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के पोर्टल पर भी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

होली पर खाद्य पदार्थों में बड़े पैमाने पर मिलावट की जाती है। सबसे अधिक मिलावट दूध, खोवा और इससे बनने वाले अन्य उत्पादों में होती है। एफएसडीए की टीम ने बीते एक माह में करीब 165 मिलावट के मामले पकड़े हैं। अभिहीत अधिकारी एसपी सिंह के मुताबिक होली पर मिलावटी सामान नहीं बिके इसके लिए हेल्पलाइन व पोर्टल नंबर पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं। शिकायत मिलते ही संबंधित डीओ के पास सूचना चली जाती है। इसके बाद इसकी जांच होगी।

जनपद में होली में मिलावट को रोकने के लिए प्रत्येक जोन में खाद्य निरीक्षकों को लगाया गया है। करीब दो दर्जन टीमें लगातार खाद्य पदार्थों के नमूने ले रही है। विभाग ने ग्राहकों से भी सामान खरीदते समय थोड़ी सावधानी बरतने की अपील की है।

मिलावटखोर सक्रिय, रहें सावधान

सिंथेटिक पनीर को पहचाने
होली पर पनीर की बढ़ी डिमांड को पूरा करने के लिए सिंथेटिक पनीर सप्लाई किया जाता है। इसे बनाने में स्किम्ड मिल्क और खाने वाले सोडे के अलावा घटिया पाम आयल, वेजीटेबल आयल और बेकिंग पाउडर का प्रयोग होता है। यह थोक में 80 रुपये तक मिलता है। यह पनीर खाने में रबर सा और पीले रंग का होता है।
मैदा, आलू और कद्दू में रंग वाला खोवा होली पर खोवा की मांग पूरी करने के लिए आसपास के इलाकों से मिलावटी खोवा की बड़ी सप्लाई होती है। मिठाइयों को तैयार करने में जिस खोवा का इस्तेमाल किया जा रहा है उसे मैदा, आलू और आरारोड से तैयार किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *