शूटरों को गिरफ्तार नहीं कर पा रही लखनऊ पुलिस, मददगारों पर भी इनाम घोषित…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

लखनऊ। मऊ के ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि अजीत सिंह की गैंगवार में गोली मारकर हत्या के मामले में पुलिस अभी तक फरार शूटरों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है। लखनऊ पुलिस की एक टीम संभावित स्थानों पर दबिश दे रही है। हालांकि काफी समय बीतने के बावजूद पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला है।

पुलिस की ओर से मददगारों के खिलाफ भी 25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। हालांकि उनके बारे में भी पुलिस पता नहीं लगा सकी है। इनामी अंकुर और बंधन के अलावा विपुल के कनेक्शन बाहुबली पूर्व सांसद से बताए जा रहे हैं। माना जा रहा है कि इन तीनों के गिरफ्तार होने के बाद पुलिस बाहुबली के खिलाफ शिकंजा कसेगी। मुठभेड़ में गिरधारी के मारे जाने के बाद शूटर अंडरग्राउंड हो गए हैं। क्राइम ब्रांच की टीम ने फरार आरोपितों के घर पर भी दबिश दी है और परिवारजन से पूछताछ की है। गौरतलब है कि विभूतिखंड में कठौता चौराहे के पास अजीत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अजीत अपने साथी मोहर के साथ गाड़ी से जा रहा था।

हत्याकांड में आजमगढ़ जेल में बंद कुंटू सिंहए बरेली जेल में बंद अखंड और मुठभेड़ में मारे गए गिरधारी का नाम सामने आया था। गिरधारी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। राजधानी पुलिस गिरधारी को लखनऊ लेकर आई थी। जहां पुलिस कस्टडी रिमांड पर उसे असलहा बरामद करने के लिए लेकर जा रही थी। इसी बीच आरोपित ने भागने की कोशिश की थी और मुठभेड़ में मारा गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!