एलटीटी सुपरफास्ट में पति से बिछड़ गई पत्‍नी, चंद मिनटों में रेल ऐसे बनी मददगार…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

लखनऊ। अक्‍सर ट्रेन में सफर के दौरान अपने एक.दूसरे से ब‍िछड़ जाते हैं। तब रेलवे की मदद सेवा हमराह बनकर हाथ थाम लेती है। करीब 10 दिन पहले गोरखपुर एलटीटी सुपरफास्ट में सवार एक यात्री सफर के दौरान अपनी पत्‍नी से बिछड़ गया। यात्री ने रेल मदद पोर्टल से संपर्क किया। यात्री ने कहा कि उसकी पत्‍नी ट्रेन में ही कहीं खो गई हैं। उनका मोबाइल से संपर्क भी नहीं हो पा रहा है। रेल मदद पोर्टल ने फौरन गुम हुई पत्‍नी को खोजकर निकाला और संपर्क उसके पत‍ि से कराया। अब यात्रियों के सफर को सुगम बनाने के लिए रेलवे का रेल मदद पोर्टल त्वरित समाधान का साधन बन गया है।

कैंसररोगी भूले इंजेक्शन लेना, सफर में तबीयत बिगड़ी वहीं पिछले दिनों बिहार संपर्कक्रांति एक्सप्रेस में गोरखपुर से सवार एक कैंसररोगी यात्री अपना इंजेक्शन लेना भूल गया। सफर के दौरान यात्री की तबीयत बिगड़ी। यात्री ने रेल मदद पोर्टल से संपर्क किया। ट्रेन बादशाहनगर पहुंची तो यहां रेलवे के डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ कैंसर रोगी यात्री का इंजेक्शन लेकर मौजूद थे। यात्री को इंजेक्शन लगा और ट्रेन आगे को चल दी।

दो माह में 1468 यात्रियों ने मांगी रेल मदद पोर्टल पर सहायता अकेले पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल में ही रेल मदद पोर्टल पर एक दिसंबर 2020 से 31 जनवरी 2021 तक 1468 यात्रियों ने सहायता मांगी है। रेलवे ने जिनमें 25 जनवरी को पैरालाइसिस लकवा से पीड़ि‍त बिहार संपर्कक्रांति एक्सप्रेस की बोगी एस.3 में सफर कर रहे एक यात्री को बुखार आ गया। यात्री को लखनऊ में रेल मदद पोर्टल पर जरूरी दवाएं उपलब्ध करायी गईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *