कंपोजिट ग्रांट में हेडमास्टर निलंबित, इतने दर्जन से अधिक अध्यापकों की वेतन कटौती…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

वाराणसी। जनपद के कई परिषदीय विद्यालयों के कंपोजिट ग्रांट में जहां घालमेल किया जा रहा। वहीं कई अध्यापक मोहल्ला स्कूल के नाम पर विद्यालय से गायब हो जा रहे हैं और मोहल्ला स्कूल में भी बच्चों को नहीं पढ़ा रहे हैं। कंपोजिट ग्रांट खर्च का विवरण देने में उदासीनता बरती जा रही है। निरीक्षण के दौरान ऐसे अध्यापकों को कलई खुल रही है। बीएसए ने इसे गंभीरता से लिया है। उन्होंने एक हेडमास्टर को निलंबित कर दिया है। वहीं 24 सहायक अध्यापकों, चार शिक्षामित्रों व एक अनुदेशक का एक दिन का वेतन काटने की संस्तुति की है।

शासन के निर्देश पर बीएसए राकेश सिंह ने पिछले दो दिनों में कई विद्यालयों का निरीक्षण किया। वहीं इसकी रिपोर्ट गुरुवार को रात करीब दस बजे जारी की। निरीक्षण के दौरान प्राथमिक विद्यालय ;गजेपुर.सेवापुरी ब्लाक, के हेडमास्टर, दो सहायक अध्यापक व एक शिक्षामित्र बगैर सूचना के गायब मिले। बीएसए ने सभी से सप्ताहभर से स्पष्टीकरण मांगा है। सप्ताहभर में जवाब न देने पर कार्रवाई की चेतावनी दी है। इसी प्रकार उच्च प्राथमिक विद्यालय चमांव.हरहुआ ब्लाक, में पांच सहायक अध्यापक, दो अनुदेशक व दो शिक्षामित्रों के गैरहाजिर मिलने पर एक दिन का वेतन व मानदेय रोक दिया है। वहीं उपस्थिति पंजिका पर हस्ताक्षर कर गायब होने के आरोप में प्राथमिक विद्यालय.बेरूका हेडमास्टर सहित पांच शिक्षकों से एक सप्ताह के भीतर स्पष्टीकरण मांगा है। दूसरी ओर प्राथमिक विद्यालय.छितौना बंद मिलने पर बीएसए ने प्रभारी हेडमास्टर को निलंबित कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!