इस एक्सप्रेस वे पर हुआ बड़ा हादसा, सेना पुलिस के इतने जवानों की मौत…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

आगरा। मथुरा के थाना नौहझील क्षेत्र में रविवार सुबह यमुना एक्सप्रेस वे पर एक स्कॉर्पियो पुलिया से टकरा गई। हादसे में सेना पुलिस के दो जवानों की मौत हो गई। दोनों अमृतसर से ग्वालियर जा रहे थे।

मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले के आनंद नगर ;गांव मोहना निवासी प्रदीप कुमार सरदार 37 अपनी स्कॉर्पियो से अवकाश पर घर जा रहे थे। स्कार्पियो में उनके साथ पंजाब के तरनताल जिले के गांव माडीकंबोकी निवासी गुरुबख्शीश सिंह 42 भी सवार थे। स्कॉर्पियो सुबह साढ़े छह बजे थाना नौहझील क्षेत्र में यमुना एक्सप्रेस वे के माइलस्टोन 74.75 के पास नोएडा से आगरा मार्ग पर अंडर पास की पुलिया से टकरा गई। दोनों के स्कॉर्पियो के अंदर फंस जाने से उन्हें कटर से खिड़की काटकर बाहर निकाला गया। तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। स्कॉर्पियो से दोनों के सेना के पहचान पत्र और आधार कार्ड के आधार पर नौहझील पुलिस ने शिनाख्त कर स्वजन को जानकारी दी। सेना के अधिकारियों को भी पुलिस ने घटना की जानकारी दी।

दोपहर में दोनों के स्वजन और रिश्तेदार मथुरा आ गए। प्रदीप के छोटे भाई हरदीप सिंह ने बताया। उनके भाई की तैनाती सेना पुलिस की 15 डीआइवी सीएमपी, अमृतसर में थी। वह अवकाश पर घर आ रहे थे। गुरुबख्शीश सिंह और प्रदीप कुमार सरदार पहले एक ही साथ अहमदाबाद में तैनात रहे थे। तभी से दोनों के बीच दोस्ती थी। अहमदाबाद से गुरुबख्शीश सिंह का ताबदला लेह हो गया। जबकि उनके भाई की तैनाती अमृतसर में हो गई थी। लेह से गुरुबख्शीश सिंह का तबादला 36 डीआइवी सीएमपी सागर हो गया था। गुरुबख्शीश को सागर में अपनी आदम दर्ज करानी थी। उनकी फ्लाइट निरस्त हो गई थी। वह प्रदीप के साथ स्कार्पियो से ग्वालियर तक जा रहे थे। वहां से गुरुबख्शीश सिंह सागर जाते। प्रदीप कुमार सरदार का सितंबर माह में रिटायरमेंट होना था। उन्होंने छह महीने पहले ही पिस्टल ली थीए जो स्कॉर्पियो में मिली है। प्रदीप स्कॉर्पियो चला रहे थे। जबकि गुरुबख्शीश बैठे हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!