महिला की फोन कॉल पर पुलिस के फूले हाथ पांव, पूरी रात बनी रही चिकरघिन्नी…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

उन्नाव। मंगलवार की रात एक महिला की फोन कॉल पर अचलगंज थाना पुलिस के हाथ.पांव फूल गए और पूरी रात चिकरघिन्नी बनी रही। फिलहाल थाना पुलिस ने मामले से उच्चाधिकािरयों को अवगत कराया है और अभी इस बात पर चुप्पी साधे है कि महिला कहां पर मिली है। पुलिस महिला पर पूरी तरह से निगरानी भी बनाए हुए हैं।

उन्नाव में माखी कांड के बाद बिहार थाना क्षेत्र में दुष्कर्म पीड़िता के आग लगाने से मौत की घटना पहले ही पुलिस की खासा किरकिरी करा चुकी हैं। अब थाना पुलिस खासा चौकन्नी हो गई है। ऐसे ही एक मामले में अचलगंज थानाक्षेत्र की 40 वर्षीय महिला ने दिसंबर.2020 में कोर्ट के आदेश पर अचलगंज थाने में दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसने गांव के दो सगे भाइयों को नामजद किया था। विवेचना के बाद पुलिस ने साक्ष्य न मिलने के चलते एफआर लगा दी थी। इसपर शिकायतकर्ती ने एसपी से आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग की थी। एसपी ने जांच के आदेश दिए थे। जिसमें मामला जमीनी विवाद का सामने आने के बाद आरोपितो को क्लीन चिट दे दी गई थी।

24 जनवरी को बीघापुर थानाक्षेत्र में रिश्तेदार के घर गई महिला को बुआ का लड़का बीघापुर बस स्टैंड तक छोड़कर चला गया था। इसके बाद वह घर नहीं लौटी और फोन करके उसने पुलिस से लखनऊ जाकर विधानसभा के सामने आत्मदाह करने की बात कही। उसकी बात सुनकर पुलिस के हाथपांव फूल गए। इंस्पेक्टर अतुल तिवारी ने एसपी को मामले की जानकारी दी और डीआईजी व आईजी को भी सूचना दी गई। तुरंत हरकत में आई पुलिस ने आरोपितों सहित स्वजन को हिरासत में लिया और पूछताछ की। नेवरना चौकी प्रभारी देवेंद्र भदौरिया फोर्स के साथ लखनऊ विधानसभा पहुंच गए और महिला की तलाश करते रहे। देर रात महिला के लौट आने पर पुलिस ने राहत की सांस ली है। वह कहां मिली इसे बात को लेकर पुलिस मौन है। हालांकि महिला के फोन के बाद रात से लेकर पूरे दिन पुलिस चक्करघिन्नी बनी रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!