आखिर ऐसा क्या हुआ कि कुख्यात गैंगस्टर की पत्नी पूजा ने चुनाव लड़ने से कर दिया इनकार, जानें वजह…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

ग्रेटर नोएडा। पुलिस का शिकंजा कसते ही कुख्यात गैंगस्टर अनिल दुजाना की पत्नी पूजा ने जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ने के इनकार कर दिया है। जिला पंचायत के वार्ड नंबर.2 से दावेदारी पेश करने वाली पूजा के पोस्टर रातों रात उतार लिए गए हैं। बताया जा रहा है कि आपराधिक प्रवृत्ति के उम्मीदवारों पर पुलिस शिकंजा कस रही है। इसलिए पूजा ने चुनाव लड़ने से पांव खींच लिए हैं। माना जा रहा है कि आपराधिक प्रवृत्ति के कई और उम्मीदवार चुनावी मैदान से पीछे हट सकते है।

दरअसल गवाह को धमकी देने के आरोप में अनिल दुजाना के खिलाफ ग्रेटर नोएडा के बादलपुर पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। इसलिए अनिल दुजाना पर शिकंजा कस सकता है।

अभी हाल में ही हुई थी अनिल दुजाना और पूजा की शादी

गैंगस्टर अनिल दुजाना की शादी दो महीने पहले हुई है। फरवरी 2019 में सगाई के लिए अनिल दुजाना को कोर्ट से अनुमति मांगी थी। यह सगाई इंटरनेट मीडिया में काफी सुर्खियों में रही थी। शादी के बाद वह पूजा को चुनावी मैदान में भी उतार दिया था लेकिन पुलिस का शिकंजा कसते देख उसने अपने पांव खीच लिए हैं।

पश्चिमी उत्तर प्रदेश का कुख्यात बदमाश है अनिल दुजाना

बता दें कि अनिल दुजाना दिल्ली से सटे गौतमबुद्धनगर जिले का रहने वाला है। गैंगस्टर पर 20 से ज्यादा हत्या, लूट, जानलेवा हमले समेत कई संगीन धाराओं में मामले दर्ज हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुख्यात बदमाशों में अनिल दुजाना का नाम शामिल है। अनिल दुजाना एक महीने पहले ही जेल से छूटा है। इससे पहले जेल में रहते हुए भी अनिल दुजाना जिला पंचायत का चुनाव जीत चुका है। ऐसे में माना जा रहा था कि दुजाना की पत्नी के खिलाफ कोई उम्मीदवार चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं करेगा।

बता दें कि गौतमबुद्धनगर में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए बुधवार से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। 11 अप्रैल को नाम वापसी के लिए आखिरी दिन है। चुनाव 19 अप्रैल को होगा। वोटों की गिनती दो मई को होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *