देश का सबसे गर्म शहर बना यह….दिन में इतने बजे ही सड़कें हो जाती हैं वीरान…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

भुवनेश्वर। राजधानी भुवनेश्वर के साथ पूरे ओड़िशा पर इन दिनों मानों सूर्यदेव विशेष रूप से मेहरबान हो गए हैं। सूर्यदेव के इस मेहरबानी का आलम यह हो गया है कि राजधानी भुवनेश्वर के साथ कई शहरों में पूर्वाह्न 11 बजे के बाद सड़कें वीरान हो जा रही हैं। बहुत ही अत्यावश्यक होने पर लोग घर से बाहर निकल रहे है। बुधवार की ही तरह गुरुवार को भी अग्नि वर्षा जारी है। गर्म हवा के थपेड़ों के साथ चिलचिलाती धूप ने आम जनजीवन को अस्त व्यस्त कर दिया है।

सूर्यदेव के अग्नि बारिश का अनुमान इसी बात से लगाया जा सकता है कि राजधानी भुवनेश्वर न सिर्फ ओड़िशा व देश का सबसे गर्म शहर बना है बल्कि जब से भुवनेश्वर क्षेत्रीय मौसम विभाग केन्द्र का गठन हुआ तब से लेकर अभी तक मार्च महीने का सर्वाधिक तापमान 44.2 डिसे बुधवार को रिकार्ड किया गया है। गुरुवार को भी समान स्थिति देखी गई है। इससे पहले यह रिकार्ड 2016 में बना था जब यहां पारा 42.2 डिसे रिकार्ड हुआ था।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक बुधवार को देश के सबसे गर्म शहरों की टाप फाइव की सूची में प्रदेश के तीन शहर शामिल हैं। इसमें भुवनेश्वर पहले स्थान पर है जबकि दूसरे स्थान पर बारीपदा एवं पांचवें स्थान पर बालेश्वर शहर है। इसके अलावा 12वें स्थान पर चांदबली शहर रहा है जहां सूर्यदेव का प्रकोप जारी है। मौसम विभान ने अगले 24 घंटे में भी भारी ग्रीष्म प्रवाह जारी रहने की चेतावनी दी है। मार्च महीने में बुधवार को भुवनेश्वर में तापमान 44.2 डिसे. रिकॉर्ड किया गया। इससे पहले 21 मार्च 2016 को भुवनेश्वर में सर्वाधिक तापमान 42.2 डिसे था। 1948 में भुवनेश्वर क्षेत्रीय मौसम विभाग केन्द्र का जब से गठन हुआ है तब से अब तक का यह सर्वाधिक तापमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *