चंदौलीः जिलाधिकारी ने शराब की तस्करी में संलिप्त अपराधियों की संपत्ति कुर्क करने का निर्देश दिया, शराब माफियाओं की संपत्ति होगी कुर्क…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

चंदौली। शराब माफियाओं पर दिनों दिन शिकंजा कसता जा रहा है। जिलाधिकारी ने शराब की तस्करी में संलिप्त अपराधियों की संपत्ति कुर्क करने का निर्देश दिया है। उनका पुराना आपराधिक इतिहास भी खंगाला जाएगा। जिले में तस्करी पर लगाम लगाने के लिए प्रशासन ने सख्त कदम उठाने का मन बनाया है। डीएम संजीव सिंह ने कलेक्ट्रेट में बैठक के दौरान निर्देश दिए।
उन्होंने कहा शराब तस्करों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इसके लिए पुलिस व आबकारी विभाग की टीम लगातार अभियान चलाएं। शराब तस्करों के खिलाफ विधिक कार्रवाई करने के साथ ही उनकी संपत्ति भी कुर्क कर ली जाए। पुलिस शराब तस्करों के पुराने आपराधिक इतिहास की पड़ताल करे। इसके आधार पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। उन्होंने लोगों से दुकानों से जांचण्परखकर ही शराब खरीदने की अपील की। बोले लोग अपने मोबाइल में एक्साइज स्कैनर एप्लिकेशन अपलोड कर लें। शराब की बोतल पर अंकित क्यूआर कोड को स्कैनर से स्कैन करें। इससे शराब की असलियत का पता चल जाएगा। यदि नकली अथवा मिलावटी शराब की पुष्टि हो तो तत्काल पुलिस व आबकारी विभाग के अधिकारियों को सूचना दें। उक्त दुकानदार के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। बोले शराब माफियाओं की नकेल कसने के लिए स्थानीय स्तर पर सूचना तंत्र को मजबूत बनाना होगा। गांवों में खुफिया तंत्र को मजबूत बनाएं। वहीं सूचना देने वालों की पहचान गोपनीय रखते हुए कार्रवाई की जाए। उन्होंने लाइसेंस शस्त्र जमा कराने के निर्देश दिए। कहा जिले में शतण्प्रतिशत लाइसेंसी असलहे जमा करा लिए जाएं। वहीं शस्त्र की दुकानों की जांच की जाए। इस दौरान दुकान में रखे असलहे कारतूस व खोखा आदि की रिपोर्ट की बारीकी से जांच करें। दुकानदारों को दुकानों में सीसी टीवी कैमरे लगवाने के लिए निर्देशित किया जाए। एसपी अमित कुमार ने कहा पंचायत चुनाव के मद्देनजर सतर्कता बरतने की जरूरत है। मतदान केंद्रों की निगरानी करें। वहीं जिले की सीमाओं पर चेकिग बढ़ा दी जाए। संबंधित थानाध्यक्ष आने जाने वालों पर नजर रखें। वाहनों की चेकिग की जाए। ताकि कोई भी अवांछित व्यक्ति जिले की सीमा में प्रवेश न कर सके। एडीएम अतुल कुमार समेत सभी एसडीएम मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *