सिलिंडर लेकर सड़क पर उतरे सैंकड़ों, रोकने में पुलिस के छूटे…..किया घेराव

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

लखनऊ। देशभर में बढ़ती हुई महंगाई को दिन लेकर राजनीतिक दलों का प्रदर्शन हो रहा है। दूसरी ओर किसान आंदोलन भी चरम पर है। वहीं प्रशासन ने त्‍योहारों बन कानून व्‍यवस्‍था को बनाए रखने के लिए राजधानी में धारा 144 लगा दी है। इसके बावजूद भी मंगलवार को सैंकड़ों की संख्‍या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। ये सभी डीएम ऑफिस का घेराव करने जा रहे थे। कार्यकर्ताओं को रोकने में पुलिस के पसीने छूट गए। सभी कार्यकर्ता हाथों में गैस सिलिंडर और महंगाई के पोस्‍टर लिए हुए थे। वहीं पुलिस उन्‍हें बैरिकेडिंग लगाकर रोकने का प्रयास कर रही है।

बता दें कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को लखनऊ महानगर इकाई को महंगाई के विरोध में जिला मुख्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपने के निर्देश दिए हैं। इसे लेकर कैसरबाग में नगर महानगर कार्यालय से सपा कार्यकर्ताओं ने इकठ्ठा होकर महंगाई के विरुद्ध पैदल मार्च निकाला। उनके हाथ में पेट्रोल, डीजल व गैस सिलिंडर की महंगाई के पोस्‍टर व बैनर थे। सभी कार्यकर्ता पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत महंगाई के विरुद्ध डीएम कार्यालय में राज्‍यपाल को ज्ञापन देने जा रहे थे।

नगर कार्यालय से कुछ ही दूरी पर सभी कार्यकर्ताओं को पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया। वहीं सपा कार्यकर्ताओं ने वहां जमकर बवाल किया। हालांकि पुलिस किसी को भी आगे बढ़ने नहीं दे रही है। बता दें कि धारा 144 में किसी भी तरह के प्रदर्शन की पूर्ण रूप से मनाही रहती है।

समाजवादी पार्टी का पिछली बार कृषि कानून के विरोध में बड़ा प्रदर्शन हुआ था। इसमें सपा नेता अनुराग यादवए नगर अध्यक्ष सुशील दीक्षित सहित 150 से अधिक कार्यकर्ता गिरफ्तार कर जेल भेजे गए थे। पार्टी ने कुछ दिन बाद महिला घेरा सरोजनी नायडू जयंती पर आयोजित किया था। अब पार्टी महंगाई के मुद्दे पर सड़क पर उतरेगी। डीजल, पेट्रोल और रसोई गैस के दामों में लगातार हो रही वृद्धि से बढ़ रही महंगाई पर एक ज्ञापन राज्यपाल को प्रेषित किया जाएगा। कार्यकर्ता कैसरबाग स्थित महानगर कार्यालय से पैदल मार्च निकालेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!