बढ़ेगा कोरोना की दूसरी लहर का कहर! भारत में कोरोना से मौतों का आंकड़ा हो सकता है दोगुना….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

नई दिल्ली। बीते कुछ सप्ताह से भारत में बड़े संकट की वजह बना कोरोना वायरस आने वाले दिनों में और कहर बरपा सकता है। आने वाले कुछ सप्ताह में कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतें दोगुनी हो सकती हैं। कुछ रिसर्च मॉडल्स में दावा किया गया है कि फिलहाल कोरोना से जितनी मौतें हो रही हैं। उससे दोगुना आंकड़ा अगले कुछ सप्ताह में हो सकता है। बेंगलुरु स्थित इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस के मुताबिक यदि कोरोना से मरने वालों की यही रफ्तार रही तो 11 जून तक मौतों का आंकड़ा 404,000 के पार पहुंच सकता है। इसके अलावा यूनिवर्सिटी ऑफ वॉशिंगटन स्थित इंस्टिट्यूट फॉर हेल्थ मीट्रिक्स एंड इवैल्युएशन के मुताबिक जुलाई के अंत तक कोरोना से मरने वालों की संख्या 10 लाख के पार पहुंच सकती है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक भारत जैसे घनी आबादी वाले देशों में कोरोना संक्रमण के मामलों को लेकर किसी भी तरह की भविष्यवाणी करना आसान नहीं है। लेकिन ज्यादातर संस्थानों ने अपनी स्टडी में कहा है कि भारत में टेस्टिंग और सोशल डिस्टेंसिंग को बढ़ाने की जरूरत है। यही नहीं यदि ज्यादा अनुमानों को खारिज भी कर दें। तब भी आने वाले कुछ महीनों में भारत कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या के मामले में पहला देश हो सकता है। फिलहाल 578ए000 लोगों की मौत के साथ अमेरिका पहले नंबर पर है। बुधवार को भारत में बीते 24 घंटे में 3,780 मौतों का आंकड़ा सामने आया है। इसके साथ ही कोरोना से मरने वाले लोगों की संख्या 2,26,188 हो गई है।

बीते एक दिन में कोरोना संक्रमण के 3,82,315 मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही भारत में कोरोना के कुल केसों की संख्या 2 करोड़ के पार पहुंच गई है। भारत में बीते कुछ सप्ताह में कोरोना संक्रमण में तेजी से इजाफा हुआ है। इसके चलते अस्पतालों में एंबुलेंस की कतारें देखने को मिल रही हैं। यहां तक कि श्मशानों में भी भारी भीड़ देखने को मिल रही है। ब्राउन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ हेल्थ के डीन अशीष झा ने कहा भारत के लिए अगले 4 से 6 सप्ताह बेहद कठिन रहने वाले हैं। उन्होंने कहा कि हमारे सामने चुनौती यह है कि कैसे भी इस लहर को सीमित किया जाए। यह 4 सप्ताह तक ही रहे और 6 या फिर 8 सप्ताह तक न खिंचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!