बोर्ड परीक्षा को लेकर जानें प्रमुख राज्‍यों का हाल, सोशल मीडिया पर बोर्ड परीक्षा कैंसिल करने की उठी मांग…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस का प्रसार के चलते एक बार फ‍िर छात्रों की बोर्ड परीक्षा पर संकट खड़ा हो गया है। हालांकि, केंद्र सरकार ने शिक्षण संस्‍थानों को लेकर अभी कोई नई गाइडलाइंस जारी नहीं किया है। लेकिन कई राज्‍य सरकारों ने शिक्षण कार्यों को बंद करने का फैसला लिया है। कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए बिहार, दिल्ली, यूपी, पंजाब, मध्य प्रदेश समेत कई बड़े राज्यों ने स्कूल.कॉलेजों को फिर से बंद कर दिया है। राजधानी दिल्ली में शिक्षा निदेशालय ने नए सेशन पर बड़ा फैसला लेते हुए सभी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद रखने का फैसला लिया है। आइए जानते हैं कि बोर्ड परीक्षाओं के बीच राज्‍य सरकार ने क्‍या फैसला लिया है। हाल में सोशल मीडिया में इस बात की मांग उठी है कि कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए बोर्ड की परीक्षा को निरस्‍त किया जाए।

कोरोना महामारी के बीच झारखंड सरकार ने कहा है कि बोर्ड की परीक्षाएं बाधित नहीं होंगी। परीक्षाएं तय कार्यक्रम के अनुसार ही होंगी। 10वीं 12वीं की कक्षाएं ऑफलाइन मोड में ही होगी। बता दें कि अभी बोर्ड की प्रैक्टिल परीक्षाएं चल रही है। 27 अप्रैल को प्रयोगात्‍मक परीक्षाएं खत्‍म होंगी। बोर्ड की परीक्षाएं 4 मई से शुरू होकर 21 मई तक चलेगी। राज्‍य सरकार की ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि इस आदेश से सूबे में चल रही परीक्षाएं प्रभावित नहीं होंगी। स्कूल बंद होने के बाद छात्रों के लिए कक्षाएं ऑनलाइन माध्यम से जारी रहेंगी। छात्रों को पढ़ाई के लिए डिजिटल सामग्री प्रदान की जाएगी। हालांकि, इस साल बोर्ड परीक्षाएं देने वाले दसवीं और बारहवीं कक्षा के छात्र स्कूल आकर ऑफलाइन कक्षाएं भी ले सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *