युवती ने दर्ज कराया मुकदमा. कोतवाल, महिला एसओ, इतने दारोगा समेत सात पुलिस कर्मी नामजद…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर। प्रशासनिक और पुलिस महकमे में भूचाल लाने वाले बस्‍ती में युवती से दुर्व्‍यवहार मामले में एडीजी जोन के निर्देश पर आईजी बस्ती ने युवती की तरफ से मुकदमा दर्ज कराया। मुकदमें में आरोपित दारोगा दीपक, उसके भाई दारोगा राजन सिंह, निलंबित कोतवाल रामपाल यादव, तत्कालीन महिला एसओ शीला यादव के साथ बारह पुलिस कर्मी, लेखपाल शालिनी और राजस्व निरीक्षक नामजद किए गए हैं।

यह है मामला

बस्ती कोतवाली थानाक्षेत्र के एक गांव में इश्कबाज दारोगा की करतूत से पूरा पुलिस महकमा शर्मसार हो उठा था। एकतरफा प्यार में दारोगा वर्दी की आड़ में उत्पीड़न की पराकाष्ठा पर पहुंचा। इस खेल में उसने विभाग की छवि को दागदार तो बनाया ही चौदह पुलिस कर्मियों को अपराधी बना दिया। एडीजी जोन के निर्देश पर आईजी बस्ती अनिल कुमार राय ने युवती की ओर से आनन फानन में तहरीर ली और कोतवाली थाने में मुकदमा दर्ज करा दिया। निलंबित कोतवाल के साथ चौदह पुलिस और राजस्व कर्मी नामजद आरोपी बना गए हैं। युवती का आरोप है कि दारोगो को उसने ना की तो उसके स्‍वजनों पर मुकदमे लाद दिए गए और उन्‍हें तरह तरह से परेशान किया गया।

सीएम तक पहुंचा तो मचा हड़कंप

यह मामला मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ तक पहुंचा तो प्रशासनिक महकमा हरकत में आया। मुख्य आरोपित दरोगा दीपक सिंह और जांच के दायरे में आए पुलिस और राजस्व कर्मियों पर कार्रवाई शुरू हो गई है। एसपी हेमराज मीणा को हटा दिया गया। कोतवाल राम पाल यादव, दारोगा दीपक सिंह को निलंबित किए जाने के बाद तत्कालीन सीओ सिटी गिरिश कुमार सिंह को भी निलंबित कर दिया गया। सिंह वर्तमान में इसी पद पर कानपुर में तैनात हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *