पेपर खराब होने पर तीन दोस्तों ने ऐसी फिल्मी कहानी रची कि पुलिस का दिमाग भी गया चकरा, जानिए क्या है कहानी….

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

बरेली। पेपर खराब होने पर तीन छात्रों ने बिल्कुल फिल्मी कहानी रच डाली। घर से भागने का प्लान बना डाला। इस बीच पैसों का मामला फंसा तो गुरुद्वारे पहुंचे। उतने ही पैसे चोरी किए जितने में सफर पूरे होने की उम्मीद थी। चोरी के इन्हीं पैसों से ढाबे पर पहले भरपेट भोजन किया। भोजन के बाद एक बाइक में चाबी लगी दिखी तो साइकिल खड़ी कर उस बाइक से भाग निकले। यह कहानी मंगलवार को वापस लौटे तीनों दोस्तों ने पुलिस व स्वजन को बताई। कहानी सुन पुलिस व स्वजन हैरत में पड़ गए।

बता दें कि नवाबगंज के गजरौला गांव के रहने वाले छात्र गुरमुख सिंह, मनजोत सिंह और कुलबंत सिंह तीनों दोस्त हैं। तीनों आस.पास के ही अलग.अलग स्कूलों में पढ़ते हैं। गुरमुख सिंह, मनजोत सिंह कक्षा आठ जबकि कुलबंत कक्षा छह का छात्र है। सोमवार को तीनों का पेपर था। तीनों का पेपर खराब हो गया। इस पर तीनों को स्वजन की पिटाई का डर सताने लगा। इसके बाद गुरमुख व मनजोत ने घर से भागने का प्लान बनाया। कुलबंत संकोच करने लगा तो उसे राजी किया। पैसों का मामला फंसा। इस पर तीनों ने तय किया कि गुरुद्वारे से पैसे का इंतजाम हो जाएगा। इसके बाद तीनों गुरुद्वारे पहुंचे। वहां से करीब 16 सौ रुपये चुराए। यहां से निकलकर तीनों ने पास के ही एक ढाबे पर खाना खाया। खाना खाकर निकले ही थे कि ढाबे के बाहर एक बाइक ऐसी खड़ी मिली जिसमें चाबी लगी हुई थी। इस पर साइकिल छोड़ तीनों उस बाइक से निकल पड़े। घर नहीं पहुंचेए तो स्वजन पुलिस के पास पहुंचे। नवाबगंज पुलिस ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। मंगलवार की सुबह तीनों एका.एक फिर गुरुद्वारे पहुंच गए। तीनों को देख गुरुद्वारे से सूचना पुलिस को दी गई जिसके बाद तीनों को पुलिस ने पकड़ा। स्वजन को जानकारी दी। स्वजनों के पहुंचने पर उन्हें सुपुर्द कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *