आप मेरी शादी करना चाहते हो, मैं पढ़कर कुछ बनाना चाहती थी…..इसलिए दे रही हूं जान, आप भी जाने यह रहा मामला…..

पूर्वांचल पोस्ट न्यूज नेटवर्क

लुधियाना। आप लोग मेरी शादी कर देना चाहते हो। मगर मैं पढ़ लिखकर कुछ बनना चाहती थी। आज मैं अपनी मर्जी से जान दे रही हूं। इसके लिए किसी को परेशान न किया जाए। यह खुलासा स्कूल बैग से मिले छात्रा हरप्रीत के सुसाइड नोट से हुआ है।

लुधियाना की हरप्रीत कौर ने मंगलवार काे खुदकुशी कर ली थी। परिवार 12वीं के बाद बेटी की शादी करना चाहता था। जल्दी शादी किए जाने की बात से परेशान ईश्वर नगर की रहने वाली 12वीं की छात्रा हरप्रीत ने गांव गिल के सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल कन्या में सोमवार को पंखे फंदा लगाकर जान दे दी। मंगलवार सुबह जब अन्य छात्राएं स्कूल पहुंची तो उन्होंने पंखे से लटकता शव देखा। इस घटना के बाद इलाके में दहशत का माहाैल है।

स्कूल बैग से पुलिस को सुसाइड नोट मिला

लैब में पड़े छात्रा के स्कूल बैग से पुलिस को सुसाइड नोट मिला है जिसमें उसने जल्द शादी किए जाने की बात लिखी है और अपनी मौत का जिम्मेदार खुद को बताया है। खुदकुशी का पता मंगलवार सुबह उस वक्त चला जब स्कूल पहुंची छात्राओं ने बायो लैब का दरवाजा खोला। अंदर देखा तो पंखे से चुनरी के सहारे हरप्रीत का शव लटक रहा था। छात्रओं ने शोर मचाया जिसके बाद शिक्षक मौके पर पहुंचे। छात्र के पिता परमिंदर सिंह प्राइवेट ड्राइवर हैं। हरप्रीत उनकी मझली बेटी थी। थाना डेहलों पुलिस ने पिता परमिंदर सिंह के बयान पर 174 की कार्रवाई की गई है।

पुलिस ने रात को मोगा में भी की थी छापामारी

छात्र के लापता होने की सूचना मिलने पर थाना डेहलों के एएसआइ हरनेक सिंह ने देर रात कुछ लोगों के मोबाइल की लोकेशन पता लगाकर मोगा के दो गांवों में छापामारी कर पूछताछ की लेकिन कोई सुराग नहीं मिला। मंगलवार सुबह साढ़े नौ बजे स्कूल में खुदकुशी की सूचना मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!